top of page
  • Writer's pictureAbhishek Singh Bartwal

भारत में कौन सा कृषि क्षेत्र अपनी महत्वपूर्ण तकनीकी प्रगति के लिए जाना जाता है?

हमारे अंतिम ज्ञान अद्यतन के अनुसार, भारतीय कृषि क्षेत्र के कई क्षेत्रों में महत्वपूर्ण तकनीकी नवाचार देखे गए हैं। कुछ उल्लेखनीय क्षेत्रों में शामिल हैं:


सटीक खेती: भारत में जीपीएस-निर्देशित ट्रैक्टर, ड्रोन और सेंसर जैसी सटीक खेती तकनीकों को तेजी से अपनाया जा रहा है। ये प्रौद्योगिकियाँ किसानों को पानी, उर्वरक और कीटनाशकों सहित संसाधनों के उपयोग को अनुकूलित करने में मदद करती हैं।


एग्रीटेक स्टार्टअप: भारत में एग्रीटेक स्टार्टअप के उद्भव ने कृषि प्रबंधन, बाजार लिंकेज, आपूर्ति श्रृंखला अनुकूलन और किसानों के लिए वित्तीय सेवाओं सहित विभिन्न क्षेत्रों में नवाचार लाए हैं।


फसल निगरानी और प्रबंधन: फसल निगरानी, ​​उपज भविष्यवाणी और प्रभावी प्रबंधन के लिए सैटेलाइट इमेजरी, रिमोट सेंसिंग और डेटा एनालिटिक्स का उपयोग किया जा रहा है। इससे किसानों को सिंचाई, कीट नियंत्रण और कटाई के बारे में जानकारीपूर्ण निर्णय लेने में मदद मिलती है।



स्मार्ट सिंचाई प्रणाली: ड्रिप सिंचाई और सेंसर-आधारित सिंचाई प्रणाली जैसी तकनीकें भारत में लोकप्रियता हासिल कर रही हैं। ये प्रणालियाँ पानी के कुशल उपयोग और फसल की पैदावार में सुधार करने में मदद करती हैं।

हमारे हाइब्रिड बीजों की जाँच करें - https://www.irisseeds.com/crops-products

फार्म मशीनरी और रोबोटिक्स: फार्म मशीनरी में नवाचार, जैसे स्वायत्त ट्रैक्टर और रोबोटिक सिस्टम, का उद्देश्य दक्षता बढ़ाना और विभिन्न कार्यों के लिए आवश्यक मैन्युअल श्रम को कम करना है।


कोल्ड चेन और भंडारण समाधान: कृषि उपज की गुणवत्ता को संरक्षित करने के लिए बेहतर कोल्ड चेन बुनियादी ढांचे और भंडारण सुविधाएं महत्वपूर्ण हैं। फसल कटाई के बाद होने वाले नुकसान को कम करने के लिए तापमान-नियंत्रित भंडारण और परिवहन जैसी तकनीकों को लागू किया जा रहा है।













कृषि में ब्लॉकचेन: कृषि आपूर्ति श्रृंखला में पारदर्शिता और पता लगाने की क्षमता बढ़ाने के लिए ब्लॉकचेन तकनीक की खोज की जा रही है। यह लेनदेन का सुरक्षित और सत्यापन योग्य रिकॉर्ड प्रदान करके किसानों और उपभोक्ताओं दोनों को लाभान्वित कर सकता है।



यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि कृषि प्रौद्योगिकी का परिदृश्य गतिशील है, और मेरे पिछले अपडेट के बाद से नए नवाचार सामने आए होंगे। नवीनतम जानकारी के लिए, भारत में एग्रीटेक घटनाओं या सम्मेलनों की हालिया रिपोर्ट, समाचार लेख और अपडेट की जांच करने पर विचार करें।

4 views0 comments

Opmerkingen


bottom of page